Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN {Editor - Ashish Kumar Jain 9893228727}

बुआ का घर छोड़ा बनाई अपहरण की कहानी, पढ़ाई का प्रेशर बोली सच्चाई, अपनी जुबानी!

दमोह : कक्षा सातवीं में पढ़ने वाली एक छात्रा ने एक ऐसी कहानी बनाई कि उसके परिजनों के साथ पुलिस महकमे में हड़कंप के हालात निर्मित हो गए. कहानी में उसने अज्ञात बाबाओं के द्वारा उसे अपहरण किए जाने, फिर मौका पाकर उसके भागने और अपने घर पहुंच जाने की कहानी गढ़ी. छोटी कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा के द्वारा इस कहानी को बनाए जाने के बाद जब प्यार से पूछताछ की गई तो पूरे मामले का खुलासा हो गया और जो खुलासा हुआ वह आपको भी परेशान कर देगा. छात्रा ने पढ़ाई के डर से भयभीत होकर अपनी बुआ के घर से अपने मूल घर तक सफर तय करने को एक अपहरण की कहानी बना दिया और मामले का पटाक्षेप होने पर पुलिस परिवार ने राहत की सांस ली.

बरधारी निवासी छात्रा बांदकपुर में पढ़ाई करती है

बरधारी की रहने वाली यह छात्रा बांदकपुर में अपनी बुआ के यहां पढ़ाई करती है. छात्र का नाम अंशिका पिता किशन सिंह लोधी है. वर्तमान में चल रहे कोरोना काल के बीच जिस तरह से पढ़ाई पर जोर नहीं है, फिर भी परीक्षाएं लेकर बच्चों को पढ़ाने का प्रयास जारी है. इसी प्रयास के बीच छात्रा पढ़ाई से खौफ खा गई और उसने बुआ के घर से निकल कर अपने घर जाने को एक अपहरण की कहानी बना दिया. कुछ वर्षों से यह छात्रा बुआ के घर पर रहकर पढ़ाई करती थी. लेकिन उसका पढ़ाई में मन नहीं लगता था और पेपर के डर से उसने यह कहानी बनाई. इस बात का खुलासा उसके पिता किशन सिंह और पुलिस ने किया है. पहले तो उसने कहानी बनाई लेकिन जब प्यार से पूछताछ की गई तो उसने कहानी के क्लाइमेक्स का खुलासा किया और परिजनों तथा पुलिस ने राहत की सांस ली.

अपहरण की कैसे कहानी बनाई

अपने घर बरधारी गांव पहुंची इस सातवीं की छात्रा ने परिजनों को बताया कि उसका अपहरण सफेद गाड़ी में सवार बाबा नुमा अपहरणकर्ताओं द्वारा किया गया था. एक स्थान पर गाड़ी रुकने के बाद वह भागने में सफल हो गई और कुछ राहगीरों की मदद से गांव पहुंच गई. यह बात सुनकर परिजनों के होश फाख्ता हो गए और वह आनन-फानन में बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंच गए. जिला अस्पताल मैं उसका इलाज शुरू किया गया और जब पुलिस को जानकारी दी गई कि छात्रा के अपहरण का प्रयास किया गया है, तो पुलिस ने मामले की तफ्तीश शुरू की. प्यार से छात्रा से जब पूछताछ की गई और उसकी एक सहेली से बातचीत की गई, तो छात्रा की कहानी और मामले में तफ्तीश की कहानी में अंतर पाया गया जिसके बाद मामले का खुलासा हो गया.

चंद घंटों में पुलिस ने कर लिया मामले का खुलासा

देहात थाना अंतर्गत आने वाले इस मामले में तत्काल ही उप पुलिस अधीक्षक शिव कुमार सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी एवं टीआई श्याम बैन के द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में इस मामले के खुलासे के लिए प्रयास शुरू किए गए. महिला पुलिस अधिकारियों को पीड़ित बच्ची से पूछताछ के लिए लगाया गया. परिजनों को समझाइश दी गई और प्यार से जब बच्ची से आराम से पूछा गया तो छात्रा ने ही पूरे मामले की कहानी का खुलासा कर दिया. महज चंद घंटों में ही पुलिस की सक्रियता से एक मामले का पटाक्षेप हो गया. देहात थाना टीआई श्याम बैन ने बताया कि छात्र द्वारा पढ़ाई से परेशान होकर इस तरह की कहानी बनाई गई थी. पुलिस की जांच और तफ्तीश के बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ है. जिसमें छात्रा के अपहरण का कोई भी मामला नहीं है.

"

Our Visitor

207214
Users Today : 972
Who's Online : 0
"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *