Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN {Editor - Ashish Kumar Jain 9425081918}

वेरिफिकेशन के नाम पर मोबाइल में ऐप इंस्टॉल कराया, रिमोट पर लेकर फोन 232000 का चूना लगाया!

दमोह में मोबाइल पर नई ठगी का मामला आया सामने, मोबाइल में ऐप इंस्टॉल कर की गई ₹232000 की ठगी, ऐप को मोबाइल में बीएसएल के वेरिफिकेशन के नाम पर कराया गया इंस्टॉल, अज्ञात ठग ने ट्रांजैक्शन कर निकाले लाखों रुपए

दमोह : दमोह में एक नए प्रकार की ठगी का साइबरक्राइम सामने आया है। जिसमें ठग के द्वारा मोबाइल पर वेरिफिकेशन के नाम पर ऐप इंस्टॉल कराया गया और उसके बाद मोबाइल को रिमोट पर लेकर उस मोबाइल से ट्रांजैक्शन करते हुए लाखों रुपए की ठगी कर ली गई। वही अब पुलिस में इस मामले की शिकायत की गई है। पुलिस जांच की बात कर रही है।

पीड़ित ने की पुलिस में शिकायत

साइबर क्राइम करने वाले ठग लगातार ही लोगों को नए नए तरीके से ठगने का काम कर रहे हैं, और लोग वेरिफिकेशन के नाम पर जानकारी के नाम पर और अनजाने में ही ठगी के शिकार हो रहे हैं। दमोह में रहने वाले रमेश चंद्र गुप्ता नामक व्यक्ति के मोबाइल पर बीएसएनल से वेरिफिकेशन की बात कहते हुए ठग के द्वारा एक मोबाइल ऐप इंस्टॉल कराए गया और उसके बाद उनके मोबाइल को रिमोट पर लेकर करीब ₹232000 का ट्रांजैक्शन कर लिया गया। इस प्रकार की ठगी में ठग को उपभोक्ता से किसी भी प्रकार की ओटीपी की आवश्यकता भी नहीं पड़ी। क्योंकि ऐप इंस्टॉल करने के बाद ठग के द्वारा मोबाइल को अपने रिमोट पर ले लिया गया था और उसने अपनी ठगी का कमाल दिखाते हुए उनके अकाउंट से पैसों का ट्रांजैक्शन कर दिया। मामले की जानकारी लगने के बाद पीड़ित के द्वारा दमोह पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर शिकायत की गई है। वहीं पुलिस ने मामले की जांच करने की बात कही है साथ ही लोगों को पूर्व की भांति इस प्रकार की किसी भी जानकारी को किसी अनजान व्यक्ति से शेयर नहीं करने की सलाह दी है।

पीड़ित व्यक्ति के बेटे ने की शिकायत

साइबर ठगी के शिकार हुए रमेश चंद गुप्ता के बेटे नवीन गुप्ता ने बताया कि उनके पिता के फोन पर शाम के करीब 5:30 बजे वेरिफिकेशन के नाम पर फोन आया था। ऐप इंस्टॉल करने की बात कही गई थी। ऐप इंस्टॉल करते ही ट्रांजैक्शन शुरू हो गए और ठग के द्वारा उनके पिता के बैंक अकाउंट से लाखों की ठगी कर ली गई। उसने मामले की शिकायत पुलिस में की है तथा इस तरह के साइबर ठगों को शीघ्र पकड़कर पैसा वापस कराने की गुहार लगाई है।

पुलिस जांच में जुटी अनजान व्यक्ति से जानकारी शेयर नहीं करने की सलाह दी

इस साइबर क्राइम के बारे में एडिशनल एसपी शिव कुमार सिंह का कहना है कि मामले की शिकायत मिली है आवेदन लेकर जांच शुरू की गई है साइबर सेल की टीम इस मामले पर जांच कर रही है जांच के बाद मामले का खुलासा होगा उन्होंने आम लोगों से अपील की है कि वे किसी भी तरह के फोन कॉल पर अनजान व्यक्ति को कोई भी जानकारी ना दें क्योंकि साइबर ठग तरह-तरह से लोगों को प्रलोभन देकर ठगी कर रहे हैं उन्होंने इस मामले पर शीघ्र ही खुलासे की बात कही है

Our Visitor

9 6 2 1 1 5
Users Today : 18
Total Users : 962115
Who's Online : 0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: