Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN {Editor - Ashish Kumar Jain 9425081918}

संतो का सानिध्‍य पाने व्‍यक्ति नहीं तीर्थंकर रचना रचते है – आर्यिका गुणमती जी

आर्यिका संघ की अगवानी में पलक पावडे बिछायें, नगर में होगा पावन वर्षायोग

संजय जैन : हटा, दमोह / आचार्य श्री विद्या सागर जी महाराज की आज्ञानुवर्ती शिष्‍या आर्यिका श्री गुणमती माता जी आर्यिका श्री ध्‍येयमती व आर्यिका श्री आत्‍ममती का ससंघ आज हटा नगर में मंगल प्रवेश हुआ। आर्यिका संघ बरौदा से विहार करते हुए प्रातः 8 बजे रजपुरा तिराहा पहुंचा। जहां नगर की सकल जैन समाज के द्वारा भव्‍य अगवानी की गई। अगवानी को लेकर नगर को दुल्‍हन की तरह सजाया गया, रंगोली सजी, वंदनवार लगाये गये स्‍वागत द्वार पर मंगल कलश एवं दीप प्रज्‍जवलित किये गये। अगवानी गाजे वाजे के साथ की गई। अगवानी यात्रा रजपुरा तिराहा से प्रारंभ होकर रेस्‍ट हाउस, बस स्‍टेण्‍ड, बडा बाजार होते हुए श्री पार्श्‍वनाथ दिगम्‍बर जैन बडा मंदिर पहुंची।

जहां आर्यिका श्री गुणमती माता जी ने अपना मंगल संदेश देते हुए कहा कि आचार्य श्री ने बताया कि कुण्‍डलपुर की तलहटी में बसे हटा नगर में चौमासा करना है, आज्ञा का पालन करते हुए आज यहां आ गये, संत का सानिध्‍य के लिए व्‍यक्ति नहीं आचार्य, भगवन, तीर्थंकर रचना रचते है, तब कही जाकर संत का सानिध्‍य मिल पाता है, यह मेरी अगवानी की तैयारी नहीं आचार्य श्री हटा पधारें उनकी अगवानी का संदेश है, आचार्य श्री के मुख पर आपकी नगरी का नाम आना निःसंदेह बहुत सौभाग्‍य की बात है।


अगवानी में आज छोटे छोटे बच्‍चों ने अनेकता में एकता का संदेश देते हुए देश के सभी प्रांतों के प्रतिनिधियों का रूप धारण करते हुए आयुषी, आदित्‍य, हितांशी, श्रुत, शुचि, श्रेयांस, आर्या, ईशु, नमन, श्रुति, मयूर, खुशी, सूरज, मिष्‍ठी, मनु, परी ने आर्यिका संघ की अगवानी की, पाठशाला के छात्र स्‍नेहा, अनु, खुशी, सिद्तांत, सुविधा, सम्‍यक, निमि, अभि, शानवी, आकांक्षा, अक्ष, तनिष्‍क, परी, आरोही, अंशिका ने समाजिक सरोकार जैसे बेटी बचाओ बेटी पढाओ, पर्यावरण, नशा एक अभिशाप, शाकाहार रहे, वृक्ष लगायें आदि का संदेश देते हुए तख्तियां नन्‍हे हाथों ने ले रखी थी, आचार्य श्री का संदेश वाहक निहाल,ऋषित, मानसी, प्रिया, आर्जव के द्वारा तैयार किया गया।

बालिका म‍ंडल की दीप्ति, चंचल, दिव्‍या, भावना, रेखा, रोली, अनमोल, अंशु, प्रिया, पलक, संस्‍कृति, मॉसी द्वारा बैण्‍ड व मांसी, मुस्‍कान, राशि, आरिका, अंशिका, अनुष्‍का, आस्‍था, गुंजन, तान्‍या, भूमिका, पूजा, श्रुति, श्रेया, प्रिया, ऋषिता, मुस्‍कान, सेतू, निधि, खुशी, विंशी, माही के द्वारा लेजिम की अनौखी प्रस्‍तुती को देखने जन समूह उमड पडा, महिला मंडल द्वारा मंगल कलश के साथ गुलाबी वस्‍त्रों में आर्यिका संघ का सुरक्षा घेरा बनाया हुआ था।


विधायक पीएल तंतुवाय, मध्‍यप्रदेश शासन के पूर्व मंत्री राजा पटेरिया, साहू समाज के जिला अध्‍यक्ष हरिशंकर साहू, मनीष पलया, ब्रजेश गुप्‍ता, पार्षद मनोज सराफ सहित नगर के गणमान्‍य नागरिकों ने भी अगवानी में सहभागिता दर्ज कराई, साहू समाज के करीब 50 प्रतिनिधि मंडल ने भी श्रीफल भेंट कर आरती की। नगर के चारों जैन मंदिरों के प्रतिनिधियों ने श्रीफल भेंट किये, हेमकुमार जैन ने 17 जुलाई से होने वाले सिद्यचक्र मंडल विधान में सभी की सहभागिता के लिए निवेदन किया।

आज के आयोजन में शाह लक्ष्‍मी चन्‍द्र जैन, सेठ दीपक, शीलचन्‍द्र सिंघई, अजय एडवोकेट, मनोज डाइट, राकेश जैन, नरेन्‍द्र जैन, रिंकू, डब्‍बू, आशीष, अंचल, निर्मल, चक्रेश, सपन जैन, बाहुवली, आदित्‍य, प्रभांशु, नीरज, नवीन, पं. प्रवीन, कमलेश, सम्‍यक, राहुल, पप्‍पू, नीलेश, भरत, अभिषेक, गौरव, अखिलेश सहित सकल जैन समाज का सहयोग एवं सहभागिता रही। कार्यक्रम का संचालन जयकुमार जलज द्वारा किया गया।

Our Visitor

9 6 2 1 1 8
Users Today : 21
Total Users : 962118
Who's Online : 0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: