Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN {Editor - Ashish Kumar Jain 9425081918}

सिद्धार्थ मलैया ने राहुल सिंह पर क्यों कसा तंज, क्या शुरू हो गई राजनीतिक जंग ?

दमोह : दमोह जिले की जिला मुख्यालय की सबसे महत्वपूर्ण सीट पर चुनाव के पहले ही राजनीतिक जंग शुरू हो गई है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि राजनीतिक विरोधियों के द्वारा अब तंज कसने की राजनीति शुरू हो गई है। ऐसे हालात में आगामी दिनों में और भी ज्यादा राजनीति के नजारे देखने मिल सकते हैं। मालूम हो कि बीते 35 वर्षों से दमोह की राजनीति कुछ अलग तरह से चल रही थी। भले ही दमोह जिले की 3 विधानसभाओ में परिवर्तन होते रहे हो, लेकिन दमोह जिला मुख्यालय की सीट पर परिवर्तन देखने नहीं मिला था। तो वही दमोह जिला मुख्यालय की सीट पर जैसे ही पासा पलटा, वैसे ही अब राजनीतिक तंज और द्वंद शुरू होता हुआ दिखाई दे रहा है। कांग्रेस में घमासान के हालात पहले भी बनती रहे हैं। लेकिन भारतीय जनता पार्टी में बीते विधानसभा चुनाव से वर्चस्व की राजनीति और राजनीतिक विरोधाभास देखने को मिल रहा है। यह राजनीतिक विरोधाभास कब तक जारी रहता है यह देखने लायक होगा।

सिद्धार्थ मलैया ने कसा राहुल सिंह पर तंज

भारतीय जनता पार्टी से निलंबित युवा नेता सिद्धार्थ मलैया इन दिनों दमोह जिले की दमोह विधानसभा सीट पर जन संवाद यात्रा का आयोजन कर रहे हैं। उनकी जन संवाद यात्रा के दो चरण पूरे हो गए हैं ।पहले चरण की जन संवाद यात्रा में उन्हें समर्थन मिला, तो दूसरे चरण की जन संवाद यात्रा में पहले से ज्यादा जनसमर्थन दिखाई दिया। ऐसे में दूसरे चरण की जन संवाद यात्रा के समापन के दौरान सिद्धार्थ मलैया ने भारतीय जनता पार्टी के नेता मध्य प्रदेश वेयर हाउसिंग कारपोरेशन लॉजिस्टिक के अध्यक्ष राहुल सिंह पर तंज कसा है। जनसंवाद यात्रा के दूसरे चरण के समापन पर समाचार संवाददाताओं के सवालों के जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि कोई कुछ भी कह सकता है कि 35 वर्षों में काम नहीं हुआ। लेकिन जो ऐसा कहते हैं उनकी सोच है। वो ऐसा कह सकते हैं। लेकिन बिना काम किए कोई 35 साल तक कैसे चुनाव जीत सकता है। वे तो एक चुनाव जीतने के बाद पार्टी छोड़ दिए और फिर चुनाव लड़ने पर जनता ने उन्हें 17000 वोटों से शिकस्त दी। यह बात सिद्धार्थ मलैया ने कही। निश्चित ही यह बात राहुल सिंह के बारे में कही गई है। ऐसे में सिद्धार्थ मलैया क्यों अब मुख्य रूप से राहुल सिंह का विरोध कर रहे हैं, जबकि पूर्व में ऐसे कोई बयान सामने नहीं आए। ऐसे में इस बयान को आगामी राजनीति के परिदृश्य के तौर पर देखा जा सकता है।

पूर्व वित्त मंत्री भी कस चुके हैं तंज

मध्य प्रदेश शासन के पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर वरिष्ठ नेता जयंत मलैया भी भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष देव नारायण श्रीवास्तव की श्रद्धांजलि सभा के दौरान एक तंज कस चुके हैं। उस समय उन्होंने अपने वक्तव्य के दौरान कहा था कि देव नारायण श्रीवास्तव जी ने पार्टी के लिए बहुत काम किया। सभी के साथ काम किया। आज बहुत से लोगों को यहां पर होना था। लेकिन वे नहीं है। वक्त सबका आता है। सब का समय एक समान नहीं होता। ठीक है। यह तंज भी पूर्व वित्त मंत्री ने भारतीय जनता पार्टी के अनेक नेताओं पर कसा था। कुल मिलाकर के विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही राजनीतिक उठापटक का दौर शुरू हो गया है और यह दौर भाजपा में ज्यादा दिखाई दे रहा है।

कांग्रेस के साथ भाजपा में खींचतान का दौर

दमोह जिले की राजनीति में कांग्रेस में लगातार खींचतान का दौर देखा जाता रहा है। लेकिन यह दौर भाजपा में इस बार शुरू हुआ है और वित्त मंत्री जयंत मलैया के दमोह विधानसभा सीट से हारने के बाद और उसके बाद राहुल सिंह के भाजपा में शामिल होने के बाद से लेकर यह खींचतान तेज हुई है। जिसमें गुटबाजी का दौर भी देखा जा रहा है। ऐसे में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा संगठनात्मक रूप से सशक्तता के साथ किस तरह चुनावी मैदान में होगी या फिर इसी तरह राजनीतिक विरोध के चलते यही दोर देखने मिलेगा, देखने लायक होगा।

Our Visitor

9 6 6 9 7 1
Users Today : 3
Total Users : 966971
Who's Online : 0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: