Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN {Editor - Ashish Kumar Jain 9893228727}

धूप सेककर बताई कमलनाथ सरकार की कमियां

दमोह : कांग्रेस सरकार की 1वर्ष की विफलताओ को गिनाने भाजपा ने एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया. जिसमें पूर्व वित्तमंत्री जयंत मलैया ने कहा प्रदेश की कांग्रेस सरकार का 1 वर्ष नाकामियों से भरा हुआ कार्यकाल है. प्रदेश की जनता इसे बुरे सपने के रूप में देखती है. पूरे प्रदेश के साथ साथ दमोह में अभी विकास कार्य एवं सामाजिक सरोकार की योजनाएं पूर्ण रूप से ठप हो चुकी है. दमोह में लगभग 1500 करोड़ की सिंचाई एवं पेयजल योजनाएं बजट नही मिलने के कारण बंद हो चुकी है. दमोह जबलपुर मार्ग पर देखना पड़ता है कि रोड में गड्ढे है कि गड्ढे में रोड़. बस स्टैंड एवं बांदकपुर गेट जैसे अनेक कार्य भूमिपूजन के बाद काम शुरू होने का इंतजार कर रहे है. दमोह में अपराधों का ग्राफ बढ़ा है और राजनीति संरक्षण प्राप्त गुंडे दमोह का माहौल खराब करने में आपस मे प्रतिस्पर्धा कर रहे है. मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार के एक वर्ष पूरे होने पर उसकी उपलब्धि यह है कि उसने वचन पत्र में जो कुछ भी कहा उसमें से कुछ भी नहीं किया.


जयंत मलैया ने कहा कि सरकार ने यदि कुछ किया तो तीन ही काम किए पहला धोखा, दूसरा भ्रष्टाचार और तीसरा कानून व्यवस्था का बंटाढार. कर्जमाफी के बावजूद मध्यप्रदेश में किसान आत्महत्या के लिए मजबूर हो रहे हैं. किसानों को फसलें खराब होने पर मुआवजा नहीं मिलता. किसानों को हर दिन कुर्की की धमकियां मिल रही हैं. बैंकों से कर्ज वसूली के नोटिस मिल रहे हैं. कमलनाथ सरकार की झूठी कर्जमाफी के कारण किसान आत्महत्या को मजबूर हुआ है. 10 दिन में कर्जमाफी करने वाली सरकार के 11 माह में 122 से अधिक किसानों ने कर्ज वसूली से परेशान होकर आत्महत्या की. पर्याप्त यूरिया का स्टॉक होने के बावजूद प्रदेश सरकार ने किसानों के साथ छल करते हुए कालाबाजारी को बढावा दिया. हजारों किसान यूरिया के लिए बेहाल होकर सरकार को कोस रहे है. प्रदेश के 32 जिलों में अतिवर्षा से किसानों की फसलें बर्बाद हुईं. सोयाबीन, मक्का, मूंग, उड़द, कपास, की फसलें खराब हुई लेकिन किसानों को आज तक मुआवजा राशि नहीं मिली. कांग्रेस ने वचन-पत्र में किसानों को फसलों पर बोनस देने का वादा किया था, लेकिन आज तक कांग्रेस इस वचन को नहीं निभा पाई. भाजपा सरकार के समय किसानों को खेती के लिए पर्याप्त बिजली मिलती थी. आज ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों को खेती के लिए बिजली नहीं मिल रही है. केंद्र सरकार ने लघु और सीमांत किसानों को किसान सम्मान निधि के माध्यम से 6 हजार रूपए सालाना देने की योजना लागू कि लेकिन मध्यप्रदेश सरकार योजना के पात्र किसानों की सूची केंद्र सरकार को न सौंपकर किसानों का अहित कर रही है.


रोजगार और 4 हजार रुपये बेरोजगारी भत्ते के नाम पर प्रदेश के युवाओं के साथ मजाक किया है. सरकार साल भर में एक युवा का नाम नहीं बता सकती, जिसे यह भत्ता मिला हो. चुनाव प्रचार में 100 रूपए प्रतिमाह बिजली देने का झूठा प्रचार कर गरीबो को हजारों रुपये के फर्जी बिल थमाए जा रहे है.


मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि से 51 हजार तो कर दी लेकिन किसी बेटी को वह प्रदान नहीं की गयी. मुख्यमंत्री मेधावी छात्र योजना के बच्चों को मिलने वाली लेपटॉप की योजना बन्द की. छात्राओं को स्कूटी देने का झूठा वादा किया गया.
भाजपा जिला अध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव ने कहा- शिवराज सरकार और केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं को बाधित कर रही प्रदेश सरकार. उदाहरण के लिए केन्द्र सरकार ने प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत आठ लाख आवास स्वीकृत किए, लेकिन गरीब विरोधी कमलनाथ सरकार ने उसमें से 2 लाख आवास लौटा दिए. बेहतर सडकें बनाने के बजाए प्रदेश की 4 हजार कि.मी. सडकों को 9 माह में जर्जर अवस्था में पहुंचाया. प्रदेश में अपराधों का लगातार ग्राफ बढ रहा है. सरकारी आकड़ों के अनुसार मात्र 9 माह में 1 हजार 278 हत्याएं और 39 हजार 485 महिलाओं पर अत्याचार के मामले दर्ज. नाबालिकों के साथ अपहरण और दुष्कर्म की घटनाओं में मध्यप्रदेश बना अव्वल. साल भर के भीतर मध्यप्रदेश में जैसी राजनैतिक अराजकता देखी गयी है, वैसी इतिहास में कभी नहीं देखी गयी.


भाजपा जिला महामंत्री रमन खत्री ने कहा कि- तबादला उद्योग ने पूरे सिस्टम की कमर तोड़कर रख दी है. कहीं कोई अधिकारी, कर्मचारी सुरक्षित माहौल में काम नहीं कर पा रहा. भाजपा जिला उपाध्यक्ष आलोक गोस्वामी ने कहा- सरकार ने अपनी नाकामियों से ध्यान हटाने के लिए नए नए प्रपंच रचने का काम कर रही है. अतिक्रमण के नाम पर जबरन कब्जे किये जा रहे है. दमोह में वर्षो से रहने वाले गरीब लोगों को जबरन बेदखल किया जा रहा है.


इस अवसर पर भाजपा जिला मीडिया प्रभारी एवं दमयंती मंडल के अध्यक्ष मनीष तिवारी, पूर्व मीडिया प्रभारी कपिल सोनी, दीनदयाल मंडल अध्यक्ष संतोष रोहित, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष प्रमोद विश्वकर्मा, जिला महामंत्री भरत यादव, रितेश सोनी, विशाल शिवहरे, विक्की ठाकुर, गोलू साहू, रिंकू गोस्वामी, राजेंद्र चौरसिया की भी उपस्थिति रही

Our Visitor

9 1 4 7 9 3
Users Today : 13
Total Users : 914793
Who's Online : 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: