Domain Registration ID: DD9A736AA76EB45DBBFAF21E3264CDF2D-IN {Editor - Ashish Kumar Jain 9425081918}

जिला पंचायत अध्यक्ष के क्षेत्र में जमकर हो रहा भ्रष्टाचार, क्या होगी कभी कार्रवाई या अधिकारी रहेंगे लाचार!

मामला बछामा पंचायत के उदयपुरा गांव का, सीसी रोड निर्माण कार्य में पंचायत कर रही जमकर भ्रष्टाचार जिला पंचायत अध्यक्ष के क्षेत्र में खुलेआम भ्रष्टाचार, विभागीय अधिकारी नहीं कर रहे कार्यवाही, नियम कायदों को एक तरफ रखकर हो रहा सीसी रोड निर्माण कार्य, अंधेर नगरी चौपट राजा की तर्ज पर चल रहे पंचायत में निर्माण कार्य, कहीं नहीं दिख रही निर्माण कार्यों में गुणवत्ता

आकिब खान / हटा : दमोह जिले के हटा जनपद पंचायत के अंतर्गत आने बाले मड़ियादौ ब्लाक में इन दिनों अंधेर नगरी चौपट राजा की तर्ज पर कार्य किया जा रहा है. ताजा मामला जिला पंचायत अध्यक्ष के क्षेत्र हटा जनपद पंचायत अंतर्गत आने वाले बछामा पंचायत के गांव उदयपुरा में सीसी रोड निर्माण कार्य में सरपंच – सचिव द्वारा जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा.

सरकार की मंशा पर लगा रहे पलीता

गौरतलब हो कि मध्यप्रदेश सरकार हर ग्राम पंचायतों को विकास कार्यों के लिए लाखों रुपए खर्च कर सीसी रोड निर्माण कार्य व तरह तरह की विकासकार्य योजनाएं संचालित कर रही है. वही कुछ भ्रष्ट विभागीय अधिकारियों से लेकर पंचायत स्तर के सरपंच सचिव द्वारा क्षेत्र भर में निर्माण कार्यों पर शासन को खुलेआम चूना लगाया जा रहे हैं. बछामा पंचायत के उदयपुरा गांव में (आसाराम गोड़ के घर से रमेश कुमार गोड़ के घर तक) पंचायत द्वारा सीसी रोड निर्माण कार्य नियम कायदों को दर किनार कर सरपंच – सचिव द्वारा खुलेआम शासन की धनराशि का दुरुपयोग कर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. वही सीसी रोड निर्माण कार्य में सिर्फ एक इंच ही सीमेंट रेत गिट्टी का मसाला डालकर निर्माण कार्य किया जा रहा है. बड़े मात्रा की एमएम की गिट्टी , लोकल की रेत सहित बिना थर्माकोल लगाए ही निर्माण कार्य चल रहा है. सीसी सड़क का बेस भी नही बनाया जा रहा है.

यह कहते हैं ग्रामीण

वही गांव के कुछ युवाओं द्वारा शिकायत में बताया इसी तरह का पंचायत के हर छोटे – बड़े गांव में निर्माण कार्य कराया जाता है. जिस पर एक साल के अंदर ही ज्यों की त्यों हालत बनी रहती. जिससे वारिश के दिनों में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. वही आदिवासी अंचल के ग्रामीण परेशान रहते हैं. वही पंचायत के सरपंच – सचिव द्वारा सड़क निर्माण कार्य में मजदूरों के हक पर डाका डालकर जेसीबी मशीन चलवाकर मुरम मिट्टी से कार्य करवाया गया था. जिस पर सरपंच सचिव ने लाखों रुपए के बिल लगाकर राशि का आहरण कर लिया था, लेकिन उस पर भी विभागीय अधिकारियो ने किसी पर कोई ठोस कार्यवाही नहीं की थी. जिससे भ्रष्टाचारियों के हौसले बुलंद हैं. ग्रामीणों की मांग है कि बछामा पंचायत के हर निर्माण की जांच उच्च अधिकारियों द्वारा की जानी चाहिए. ताकि दोषियों पर कठोर कार्यवाही हो सके.

यह कहते हैं अधिकारी

वही जब इस संबंध में सीईओ ब्रतेश जैन से बात कि तो उन्होंने मोके पर सब इंजीनियर को भेजकर जाच कर कार्यवाही का हवाला दिया है. देखना होगा कि खबर सामने आने के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष की पंचायत में क्या कार्यवाही की जाती है.

Our Visitor

9 6 6 3 9 3
Users Today : 0
Total Users : 966393
Who's Online : 0

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: